Movie prime
पटना SSP मानवजीत सिंह ढिल्लों के बयान पर गिरिराज सिंह का जवाब, बताया क्या है RSS
 

पटना पुलिस ने फुलवारी शरीफ से दो संदिग्‍ध आतंकियों को बीते दिनों गिरफ्तार किया. ये दोनों आतंकी गतिविधियों में शामिल थे. इन दोनों का आतंकवादी संगठन सिमी से कनेक्शल मिला है. वहीं इस मामले को लेकर गुरुवार को पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने उनकी ट्रेनिंग को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जोड़ दिया है. इनके इस बयान के बाद ADG पुलिस मुख्यालय जितेंद्र सिंह गंगवार ने पटना SSP मानवजीत सिंह ढिल्लो को उनके विवादास्पद बयान को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है. वहीं अब इस मामले में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की एंट्री हो गई है. उन्होंने बिना नाम लेते हुए मानवजीत सिंह ढिल्लो पर निशाना साधा है. 

File:Giriraj Singh addressing a press conference on the achievements of the  Ministry of Micro, Small & Medium Enterprises, during the last four years,  in New Delhi.JPG - Wikimedia Commons


गिरिराज सिंह ने एक ट्वीट करते हुए लिखा कि, RSS मतलब राष्ट्र प्रेम..RSS मतलब राष्ट्र कल्याण..RSS मतलब देश सेवा..RSS मतलब जनकल्याण ..RSS मतलब मानवता और सौहार्द्र..RSS मतलब संविधान के हिमायती. देश और दुनिया का हर समझदार व्यक्ति इस बात को जानता है ,सिवाय कुछ "एजेंडावादियों और तुष्टिकरण" के पैरोकारों के. 


जानकारी के लिए बता दें  पुलिस ने दोनों को नया टोला से दबोचा है. इन दोनों का आतंकवादी संगठन सिमी से कनेक्शल मिला है. गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मोहम्मद जलालुद्दीन और अतहर परवेज के रूप में हुई है. वहीं  इस मामले को लेकर पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने उनकी ट्रेनिंग को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जोड़ दिया. एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि,  'मदरसे से यह लोगों को मोबिलाइज करते थे और कट्टरता की ओर मोड़ रहे थे. पकड़े गये लोग सीमी के कार्यकर्ता है. उन्होंने कहा कि जिस तरह आरएसएस की शाखा में स्वयं सेवकों को शारीरिक प्रशिक्षण दिया जाता है, उसी तरह पकड़े गये लोगों को भी मस्जिद में प्रशिक्षण दिया जा रहा था. 

इनके इस बयान के बाद राजनीति तेज हो गई. बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने तो ये कह दिया की एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है उन्हें जल्द बर्खास्त किया जाना चाहिए. वहीं इस बयान के बाद पुलिस मुख्यालय ने सफाई देते हुए कहा है कि पटना एसएसपी का बयान गैरजरूरी था। साथ ही 48 घंटों में जवाब देने को कहा है.