Movie prime
पीएम मोदी ने नई दिल्ली में किया बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो का उद्घाटन, भारत को बताया अवसरों की भूमि
Report: Sakshi
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को नई दिल्ली में दो दिवसीय बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो 2022 का उद्धाघटन किया. बता दें इस एक्सपो का आयोजन प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान परिषद की जैव प्रद्योगिकी विभाग की ओर से किया गया है. इस एक्सपो की थीम 'बायोटेक स्टार्टअप नवोन्मेष: आत्मनिर्भर भारत की ओर' रखी गई है. 

Biotech Startup Expo-2022 Two Days Programme At Pragati Maidan, Delhi

आपको बता दें कि यह दो दिवसीय आयोजन 10 जून को समाप्त होगा. ये एक्सपो उद्यमियों, निवेशकों, वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं, निर्माताओं और सरकारी अधिकारियों को जोड़ने के लिए एक मंच के रूप में काम करेगा. बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो 2022 में 300 के करीब स्टॉल लगाए जाएंगे. जिनमें स्वास्थ्य देखभाल, जिनोमिक्स, बायोफार्मा, कृषि, औद्योगिक जैव प्रौद्योगिकी, स्वच्छ ऊर्जा सहित विभिन्न क्षेत्रों में जैव प्रौद्योगिकी के उपयोग को प्रदर्शित किया जाएगा.

बता दें की उद्धाघटन करने के बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बीते 8 साल में भारत की बायो-इकॉनमी 8 गुना बढ़ गई है. हम 10 अरब डॉलर से 80 अरब डॉलर तक पहुंच चुके हैं. दुनिया में हमारे आईटी प्रोफेशनल की स्किल और इनोवेशन को लेकर विश्वास नई ऊंचाई पर है. यही ट्रस्ट, यही रेप्यूटेशन, इस दशक में भारत के बायोटेक सेक्टर, भारत के बायो प्रोफेशनल्स के लिए होते हम देख रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने बताया की भारत को बायोटेक के क्षेत्र में अवसरों की भूमि माना जा रहा है और उसके पांच बड़े कारण हैं. पहला- डाइवर्स पॉप्युलेशन, डाइवर्स क्लाइमेटिक जोन्स, दूसरा- भारत का टैलेंटेड ह्यूमन पूल कैपिटल, तीसरा- भारत में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए बढ़ रहे प्रयास. चौथा- भारत में लगातार बढ़ रही बायो प्रोडक्ट्स की डिमांड. पांचवा- भारत के बायोटेक सेक्टर यानि आपकी सफलताओं का ट्रैक रिकॉर्ड.

बता दें भारत में लगातार बायो प्रोडक्ट की डिमांड बढ़ रही है. वहीं बीते 8 वर्षों में हमारे देश में स्टार्ट-अप्स की संख्या, कुछ सौ से बढ़कर 70 हजार तक पहुंच गई है. ये 70 हजार स्टार्टअप लगभग 60 अलग-अलग इंडस्ट्रीज़ में बने हैं और आपको जानकर ख़ुशी होगी इसमें भी 5 हज़ार से अधिक स्टार्टअप, बायोटेक से जुड़े हैं.