Movie prime

बिहार जातीय गणना की रिपोर्ट का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, अदालत ने कहा- अभी हम कुछ नहीं कर सकते

 

बिहार सरकार ने जातीय गणना के आंकड़े सोमवार को जारी किया. लेकिन अब जातीय गणना का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया हैं. सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को जातीय गणना के रिपोर्ट के खिलाफ एक याचिका दायर की गई, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है. हालांकि कोर्ट ने कहा वह अभी इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करेगा. 6 अक्टूबर को मामला सुनवाई के लिए लगा है, उसी समय आपकी दलील सुनेंगे.

Bihar Caste Survey Data Matter Reaches Supreme court Hearing Will be on 6 August सुप्रीम कोर्ट में रखा गया बिहार जातीय सर्वे मामला, 6 अक्टूबर को होगी सुनवाई

सोमवार को जारी किए गए जातीय गणना की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार की जनसंख्या 13 करोड़ 7 लाख 25 हजार 310 है. इसमें 2 करोड़ 83 लाख 44 हजार 160 परिवार हैं. जिसमें अत्यंत पिछड़ा वर्ग 36%, अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) 27% हैं. वहीं जातियों में सबसे ज्यादा 14.26% यादव हैं. ब्राह्मण 3.65%, राजपूत (ठाकुर) 3.45% हैं. सबसे कम संख्या 0.60% कायस्थों की है. 
Bihar caste census results out, OBCs form 63% of population, General 16% -  India Today