Movie prime
रेलवे भर्ती घोटाला: भोला यादव और हृदयानंद चौधरी 2 अगस्त तक CBI रिमांड पर
 

सीबीआई भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है. पहले जहां लालू यादव के करीबी भोला यादव को सीबीआई ने हिरासत में लिया तो वहीं अब हृदयानंद चौधरी को भी हिरासत में ले लिया. इतना ही नहीं सीबीआई ने भोला यादव  और हृदयानंद चौधरी को कोर्ट में पेश किया. पेश करने के बाद कोर्ट ने भोला यादव और  हृदयानंद चौधरी को 2 अगस्त तक सीबीआई रिमांड पर भेजा है. सीबीआई ने दोनों की 10 दिनों की रिमांड मांगी गई थी. लेकिन कोर्ट ने भोला यादव और हृदयानंद चौधरी को एक सप्ताह की रिमांड पर भेजा है.

भोला यादव और हृदयानंद चौधरी 2 अगस्त तक CBI की हिरासत में, जानें मामला

आपको बता दें कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के करीबी और पूर्व राजद विधायक भोला यादव को सीबीआई ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए हिरासत में लिया. ये कार्रवाई रेलवे भर्ती घोटाले से जुड़े मामले में हुई. इतना ही नहीं सीबीआई ने बिहार के पटना और दरभंगा में चार ठिकानों पर छापे भी मारे हैं. रेलवे भर्ती घोटाला मामले का सरगना हृदयानंद चौधरी को भी सीबीआई ने अपने हिरासत में लिया. वहीं फिर दोनों को कोर्ट में पेश किया गया. जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें  2 अगस्त तक सीबीआई रिमांड पर भेजा है. 

बता दें कि रेलवे भर्ती घोटाला वर्ष 2004 से 2009 के बीच हुआ था. आरोपों के अनुसार, लालू यादव जब केंद्रीय रेल मंत्री थे तो जॉब लगवाने के बदले जमीन और प्लॉट लिए गए थे. इस मामले में 18 मई को सीबीआई ने लालू यादव, राबड़ी देवी, मीसा भारती और हेमा यावद समेत अन्य लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की थी. इसी साल मई में एक साथ 17 ठिकानों पर छापेमारी भी की गई थी. आरोप यह है कि रेलवे में ग्रुप डी में नौकरी के बदले पटना में प्रमुख संपत्तियों को लालू के परिवार के सदस्यों को बेची या गिफ्ट में दी गई थी.